Work from home launched. Click on Start Here and get register yourself to become Mitra operator or Digital CSP or District Manager and earn a good income @ Home. Center for Ayushman Bharat Kendra PMJAY, NSDL Pan center , UTI Pan Center, ICICI Bank CSP, BOB CSP, emudhra Partner, Digital SMS Kendra are available. स्वयं का ऑफिस / केंद्र चलाएं और 20 - 50000 रुपये तक आसानी से कमाएं। किसी भी बैंक को मनी ट्रान्सफर व धन निकासी, बिजली बिल व अन्य बिल पेमेंट, ,डिजिटल सिग्नेचर, जीवन बीमा, वाहन बीमा, स्वास्थ्य बीमा, किसान बीमा, आधार -पैन-वोटर कार्ड, ड्राइविंग लाइसेन्स, पासपोर्ट, राशन कार्ड, बल्क एसएमएस आदि काम करें। Free Technical support. Contact us through registered mobile or email only.

आधार से इनकम टैक्स रिटर्न भरने वालों को खुद-ब-खुद मिल जाएगा PAN नंबर

कोई व्यक्ति आधार का उपयोग कर रिटर्न दाखिल करता है और उसके पास पैन संख्या नहीं है तो यह मान लिया जाएगा कि उसने पैन जारी करने के लिए आवेदन कर दिया है. खास बातें आधार से ITR फाइल करने वालों को स्वत: मिलेगा PAN माना जाएगा PAN के लिए भी किया है आवेदन 1 सितंबर से प्रभावी हो गया है ये नियम आधार संख्या का उपयोग कर रिटर्न दाखिल करने वालों को अब आयकर विभाग अपने आप ही स्थायी खाता संख्या (पैन) जारी कर देगा. विभाग ने इनकम टैक्स रिटर्न और पैन के डाटाबेस को जोड़ने की प्रक्रिया के तहत इस नई व्यवस्था की शुरुआत की है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) की 30 अगस्त की अधिसूचना के अनुसार यदि कोई व्यक्ति आधार का उपयोग कर रिटर्न दाखिल करता है और उसके पास पैन संख्या नहीं है तो यह मान लिया जाएगा कि उसने पैन जारी करने के लिए आवेदन कर दिया है. साथ ही इसके बाद उसे कोई और दस्तावेज दाखिल करने की जरूरत भी नहीं होगी. PAN Card और Aadhaar Card लिंक करने की अंतिम तारीख अब 30 सिंतबर यह नया नियम 1 सितंबर से प्रभावी हो गया है. अधिसूचना में कहा गया है कि कर विभाग पैन संख्या आवंटित करने के लिए आधार से व्यक्ति की अन्य जनांकिक जानकारी जुटा लेगा. सीबीडीटी, आयकर विभाग के लिए नीति निर्धारण करने वाला शीर्ष निकाय है. सीबीडीटी के चेयरमैन पी. सी. मोदी ने जुलाई में एक साक्षात्कार में पीटीआई-भाषा से कहा था कि विभाग खुद से उस व्यक्ति को एक नयी पैन संख्या आवंटित कर देगा, जो रिटर्न दाखिल करते समय आधार का उपयोग करेगा. यह दोनों डाटाबेस को आपस में जोड़ने की नयी व्यवस्था का हिस्सा है

Related News